पारस का पहाड़ (paras ka Pahad) | mystery story in hindi

1/5 - (1 vote)

पारस का पहाड़ (जादुई कहानियां हिंदी में)- mystery story in hindi: 

जादुई कहानियां हिंदी में- गंगा नदी के किनारे एक बहुत ही सुंदर गाँव था। जिसकी आबादी बहुत कम थी। यहाँ के लोग लोग आम जन जीवन से काफ़ी दूर थे। न ही कोई तकनीक और न ही कोई जीवन यापन की वस्तुएँ| उसी गाँव में चार बच्चे होते हैं। उनमे काफ़ी गहरी दोस्ती होती है। जिसमें तीन लड़के अभिषेक, विकास और सैम थे और एक लड़की जिसका नाम रीता होता है। रीता और सैम लगभग सात वर्ष के हैं। वही अभिषेक और विकास की उम्र लगभग पंद्रह 16 साल होती है। विकास को चित्रकारी का बहुत शौक़ होता है। वह रोज़ाना बहुत ही सुंदर चित्रकारी किया करता था। एक दिन चारों दोस्त आपस में नदी के रास्ते घूमने की योजना बनाते हैं सभी नदी के किनारे पहुँच जाते हैं। गाँव के ज़्यादातर लोग भोजन के लिए मछलियों पर आधारित थे। इसी वजह से नदी के किनारे छोटी छोटी नाव पेड़ से बाँध कर रखी होती थी। चारों दोस्त एक नाव को खोल कर नदी में ले आते हैं, और धीरे धीरे नदी की धारा के साथ बहने लगते हैं। अभिषेक को बचपन से ही नशे की लत होती है, इस लिए वह अपने जेब में मादक चीज़ें रखता है, और यह बात उसके सभी दोस्त भी जानते हैं। सभी इससे काफ़ी नाख़ुश भी होते हैं। लेकिन उनकी दोस्ती बहुत गहरी होती है। इसी कारण से वह कभी साथ नहीं छोड़ते। नदी के सफ़र में धीरे धीरे उनको बहुत आनंद आने लगता है। आज से पहले उन्होंने इतनी प्राकृतिक ख़ूबसूरती कभी नहीं देखी थी।
पारस का पहाड़ mystery story in hindi
Image by Mollyroselee from Pixabay

चारों काफ़ी उत्साहित रहते हैं। लेकिन अचानक नदी में पानी का बहाव तेज होने लगता है। जिसे देखकर सभी दोस्त घबराने लगते हैं और वो जल्द से जल्द नदी के किनारे पहुँचने का प्रयास करते हैं। लेकिन नदी की धारा बहुत तेज होती है। इससे वह अपनी नाव का संतुलन खो देते हैं। नाव बहुत तेज़ बहते हुए अपने आप एक वीरान जगह मैं झाड़ियों में फँस जाती है। चारों दोस्त धीरे से बचते हुए नदी के किनारे एक पहाड़ी इलाक़े में आकर बैठ जाते हैं। विकास चारों तरफ़ नज़र घुमाता है और अपने दोस्तों से पूछता है। हम कहाँ आ गए ? ये कितनी अजीब जगह है। अब हम घर कैसे जाएँगे। विकास की बातें सुनकर सैम और रीता घबरा जाते हैं। तभी अभिषेक कहता है। अरे तुम लोग चिंता मत करो। मैं कुछ न कुछ रास्ता निकालता हूँ। वह सैम को अपने साथ चलने के लिए कहता है, ताकि वापस घर जाने के रास्ते का पता लगाया जा सके। वही विकास और रीता नदी के किनारे ही बैठ जाते हैं। विकास वहाँ पड़े सूखे पत्ते पर चित्रकारी करने लगता है, और रीता आस पास टहलने लगती है। यहाँ दूसरी ओर अभिषेक और सैम रास्ता ढूंढते ढूंढते काफ़ी दूर निकल आते हैं। अभिषेक अपनी जेब से गांजा निकाल कर पीने लगता है। तभी सैम नाराज़ होते हुए उसे मना करता है और अभिषेक सैम को पीछे हटने के लिए धक्का देता है। लेकिन सैम का पैर फिसल जाता है, और वह पहाड़ी से नीचे घने जंगलों में गिर जाता है। अभिषेक तुरंत पहाड़ी से नीचे झांक करके देखता है |

paras ka pahad mystery story in hindi
Image by Hasib Imtiaz from Pixabay

वह बहुत ज़ोर से चिल्लाता है। सैम .. वह पसीने से लथपथ हो जाता है। अभिषेक को समझ में आ जाता है कि सैम अब नहीं बच सकता। वह रास्ता ढूँढ़ते हुए वापस अपने दोस्तों के पास पहुँचता है, और सारी घटना विकास और रीता को बताता है विकास, अभिषेक को बहुत डांटता है, और कहता है तुम लापरवाह हो तुमने सैम को मार डाला और तीनों दुखी मन से धीरे धीरे अपने गाँव का रास्ता ढूंढते हुए वापस आ जाते हैं। सभी गाँव वाले यह बात जानकर अभिषेक को बहुत डांटते हैं, और सैम की माँ अपने बच्चे के लिए बहुत दुखी होती है। समय के साथ सभी उस घटना को भूल जाते हैं। लगभग 16 सालों बाद बचे हुए तीनों दोस्त अलग अलग हो जाते हैं। रीता की शादी एक वैज्ञानिक से हो जाती है। विकास फ़ैशन डिज़ाइनर बन जाता है और अभिषेक उसी गाँव में अपना जीवन बर्बाद करते हुए नशे में डूब जाता है। दरअसल वह बचपन के उस हादसे को अभी तक भूल नहीं पाया था। उसे रह रह कर सैम की याद आती है। यहाँ दूसरी ओर रीता के पति अपनी लैब में एक प्रोजेक्ट में काम कर रहे होते हैं। जिसमें वह पारस के जादुई पत्थर की खोज कर रहे थे।

पारस का पहाड़ best hindi story
Image by WikiImages from Pixabay

दरअसल कई बरसों पहले ही सैटलाइट से खींची गई तस्वीरों का डाटा इनके हाथ लगा था। जिसमें उन्हें पारस पत्थर की पहाड़ियों का चित्र नज़र आया था। लेकिन वह उसकी सही लोकेशन का पता नहीं लगा पा रहे थे। रिसर्च करते कई दिन बीत चुके थे। एक दिन वह रीता के साथ उसी शहर आते हैं, जहाँ रीता का दोस्त विकास रहता था और रीता, विकास को फ़ोन करके उससे मिलने की योजना बनाती है। वह अपने पति को भी साथ चलने को कहती है। विकास का बहुत बड़ा फ़ैशन डिजाइनिंग कॉम्पटीशन होने जा रहा होता है। विकास उन्हें वही आमंत्रित करता है। दोनों पति पत्नी विकास के प्रोग्राम पर जाकर बहुत आनंद करते हैं। विकास को भी इतने दिनों के बाद रीता से मिलकर बहुत ख़ुशी होती है। विकास, रीता और उसके पति को अगले ही दिन अपने घर खाने के लिए बुलाता है। दोनों विकास के घर समय से पहुँच जाते हैं। विकास अकेला रहता है, इसलिए खाने की सारी तैयारी उसे ही करनी पड़ती है। लेकिन फिर भी उसने बहुत ही अच्छा इंतज़ाम किया होता है। तीनों साथ बहुत ही आनंद से खाना खाते हैं। उसके बाद विकास अपनी चित्रकारी रीता और उसके पति को दिखा रहा होता है। तभी रीता के पति, जो कि वैज्ञानिक हैं, उनके हाथ वही पत्ता लगता है, जिसमें विकास ने कई बरसों पहले चित्रकारी की थी। वैज्ञानिक यह देखकर सन्न रह जाता है। दरअसल उसमें वही पारस पत्थर के पहाड़ का चित्र बना होता है। जिसकी रिसर्च वह वैज्ञानिक कर रहा था। वैज्ञानिक तुरंत अपने रिसर्च सेंटर फ़ोन करके सिक्योरिटी फ़ोर्स बुलाता है, और विकास को गिरफ़्तार कर लिया जाता है।

paras ka pahad story in hindi
Image by 4711018 from Pixabay

दरअसल यह चित्र बहुत ही गुप्त दस्तावेजों में शामिल होती है, वैज्ञानिक को लगता है कि इतनी सीक्रेट इन्फोर्मेशन इसके पास होने का मतलब ज़रूर यह कोई ख़ास आदमी है। वैज्ञानिक उसे अपने रिसर्च सेंटर ले जाकर पूछताछ करता है। तभी विकास बताता है कि मैं, रीता और हमारे दो और दोस्त, बचपन में एक जगह घूमने गए थे। जहाँ हम फँस चुके थे। मैंने वही पहाड़ों को देखकर यह चित्र बनाया था, और वहाँ हमने अपने एक दोस्त को भी खो दिया था। वैज्ञानिक विकास की बात को प्रमाणित करने के लिए रीता को फ़ोन लगाता है, और रीता भी सारी बात हुबहू बता देती है। अब वैज्ञानिक, विकास की बात पर पूरा यक़ीन हो जाता है। तभी वैज्ञानिक सरकारी आदेश लेकर, एक दल का गठन करता है। जिसमें वह विकास और रीता को साथ ले जाता है, और उनके गाँव पहुंचकर सभी अभिषेक से मिलकर बहुत खुश होते हैं, और अभिषेक को भी इस दल में शामिल किया जाता है। बहुत साल होने के बाद प्राकृतिक परिवर्तन की वजह से उन्हें उस जगह पहुँचने में बहुत समस्या होती है, तभी वह पानी की बजाय जंगल के रास्ते से आगे बढ़ते हैं। उनके साथ कुछ गनमैन भी होते हैं। जो उनकी सुरक्षा के लिए उनके साथ चलते हैं। जंगल के ख़तरनाक रास्ते से सभी लोग आगे बढ़ते रहते हैं। और सभी एक जगह आराम करने के लिए बैठ जाते हैं। तभी कुछ के आदिवासियों का आक्रमण हो जाता है और सभी अपनी जान बचाकर इधर उधर भागते हैं। इसी भागा दौड़ी के बीच रीता दल से अलग हो जाती है, और वह भागते भागते एक सुनसान जगह पर पहुँच जाती है। तभी अचानक उसकी तरफ़ धारदार भाला ज़ोर से आता है, और एक क़बीले वाला उस भाले को पकड़ लेता है।

mystery story in hindi
Image by Google.com

वह काफी बलसाली दिखाई देता है। उसके बहुत लंबे बाल होते हैं। रीता डर की वजह से अपनी आँख बंद करके बैठ जाती है। वह इंसान रीता से पूछता है। तुम लोग कौन हो, और इस घने जंगल में क्यों आयी हो। रीता उसे सारी बात बताती है। तभी उस क़बीले वाले इंसान को अपना बचपन याद आता है। दरअसल ये वही लड़का सैम होता है, जो पहाड़ी के ऊपर से गिरा था, और इसकी जान क़बीले के लोगों ने बचायी थी। तभी यह रीता की भाषा भी समझ पा रहा था और इसी बीच अभिषेक भी वहाँ आ जाता है। अभिषेक को देखकर रीता उसके गले लग जाती है और उसे बताती है, कि यह हमारा बचपन का दोस्त सैम है। जिसे तुमने खाई से धकेल दिया था। लेकिन सैम को पता होता है कि, वह तो सिर्फ़ एक हादसा था, और तीनों एक साथ मिलकर बहुत ख़ुश होते हैं। तभी रीता बताती है कि विकास भी उनके साथ आया है। सैम ख़ुशी ख़ुशी विकास से मिलने के लिए उतावला होता है। सैम क़बीले बालों के बीच रहता है, इसलिए वह अपनी भाषा में क़बीले के लोगों को शांत कर देता है। सभी साथ मिल कर वैज्ञानिक के पास पहुँचते हैं, और रीता अपने पति को सारी बात बता देती है। सैम यहाँ कई सालों से रह रहा होता है। इस वजह से उसे उन पारस पत्थर के पहाड़ों के बारे में जानकारी होती है।

best adventure story
Image by google.com

उस पहाड़ को कबीले वाले लोग अपना देव स्थान मानते हैं। वह सारी टीम को उस पहाड़ी के पास ले जाता है, और वैज्ञानिक यह देखकर ख़ुशी से उछल पड़ता है। दरअसल पारस पत्थर मैं ऐसी शक्ति होती है, कि उसे किसी भी धातु से स्पर्श करने के बाद वह सोने की हो जाती है। वैज्ञानिक ने बहुत बड़ी सफलता प्राप्त कर ली थी, और चारों बिछड़े हुए दोस्तों को फिर से इस घटना ने मिला दिया था। सभी अपने गाँव आकर यह बात बताते हैं। गाँव वाले यह सब जानकर बहुत ख़ुश होते हैं। वैज्ञानिक को भी उसकी इस खोज के लिए सरकार से बहुत बड़ा पुरस्कार दिया जाता है, और उस पहाड़ को सिक्योरिटी के साथ संरक्षण दिया जाता है, और इस जादुई पत्थर की कहानी का अंत हो जाता है।

Visit for बच्चो की कहानियाँ

Click for Best Magical stories
Best moral story किन्नर (Kinnar)- सीख देने वाली कहानी

Leave a Comment